जाने क्यों भारत की इस खिलाड़ी ने खेलने से मना कर दिया

फेसबुक पर सौम्या स्वामीनाथन ने लिखा,

“ये बताते हुए मुझे दुख हो रहा है कि मैंने आने वाली एशियन नेशंस कप चैंपियनशिप से अपना नाम वापस लेने की गुज़ारिश की है क्योंकि मैं नहीं चाहती कि मुझे हिजाब या बुरखा पहनने पर मजबूर किया जाए सबके लिए हिजाब की पाबंदी वाला ईरानी क़ानून मुझे मेरे बुनियादी मानवाधिकारों का सीधा हनन लगता है”

सौम्या स्वामीनाथन इंडियन चेस स्टार भारत के लिए कई चैंपियनशिप्स जीतने वाली और महिला ग्रैंडमास्टर का टाइटल होल्ड करने वाली शतरंज खिलाड़ी सौम्या को जुलाई के अंत में एशियन नेशंस कप चैंपियनशिप में हिस्सा लेने ईरान जाना था सौम्या ने मना कर दिया है. अपना नाम वापस ले लिया है वजह पहनावे की आज़ादी से जुड़ी है सौम्या ईरान में जाकर हिजाब नहीं पहनना चाहती ईरानी क़ानून के मुताबिक़ वहां हर महिला का हिजाब पहनना अनिवार्य है सौम्या नहीं चाहती कि उनकी कपड़े पहनने की बुनियादी स्वतंत्रता पर कोई हर्फ़ आए

उन्होंने ये भी कहा कि,

“ऐसी प्रतियोगिताएं आयोजित करते वक़्त खिलाड़ियों के अधिकारों का ध्यान न रखा जाना निराशाजनक है ये मैं समझ सकती हूं कि आयोजक हमसे अपनी नेशनल टीम की ड्रेस या फॉर्मल कपड़े पहनने की उम्मीद करें लेकिन धार्मिक ड्रेस कोड की स्पोर्ट्स में यकीनन कोई जगह नहीं है ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *